जानिये भगवान गणेश के 12 अद्भुत स्वरूप!! जिनकी पूजा करने से मिलते हैं भिन्न-भिन्न लाभ!!

हिन्दू धर्म में गणेश जी को प्रथम पूजनीय माना जाता है!!

कोई इन्हें विघ्नहर्ताकहता है तो कोई इन्हें सिद्धिविनायक। भगवान गणेश के भक्त इन्हें अलग-अलग नामों से जानते हैं और उनके अलग-अलग स्वरूप की पूजा करते हैं। आज के दौर में गणेश जी के भक्तों की संख्या बहुत बड़ी है। देश–विदेश के भिन्न-भिन्न जगहों पर भगवान गणेश के विभिन्न स्वरूपों की अराधना करते हैं। लेकिन गणेश चतुर्थी एक ऐसा त्यौहार है, जिसे कोने-कोने में बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है।

हिन्दू धर्म के अनुसार कोई भी नया काम शुरू करना हो, घर में विवाह हो, या फिर दिनचर्या का आरंभ ही क्यों ना करना हो…. सबसे पहले भगवान गणेश की ही पूजा की जाती है। भगवान गणेश जी को विघ्नहर्ता कहा गया है इसलिए यह मान्यता है कि गणेश जी को सर्वप्रथम पूजने से वह कार्य बिना किसी बाधा के पूर्ण होता है। घर हो या कोई मंदिर, जब भी पूजा आरंभ होती हैं तो सबसे पहले भगवान गणेश का ही नाम लिया जाता है।

अगले पेज पर जानिए भगवान गणेश के 12 स्वरूप….

पिछला पेज 1 of 4

SHARE

हिन्दू धर्म, ज्योतिष एवं स्वास्थ्य की लगातार अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें और ट्विटर पेज फॉलो करें!! और बने रहिये ॐनमःशिवाय.कॉम के साथ!!

Loading...
SHARE