जानिए पुदीना के 8 चमत्कारिक गुण व् इसके उपयोग!!!

पुदीना प्रायः एक द्विवार्षिक अथवा कदाचित एकवर्षीय पौधा है जो लगभग पूरे भारतवर्ष में पाया जाता है ! इसका अंग्रेजी नाम Mint तथा वनस्पतिक नाम मेंथा है ! इसकी कई प्राकर्तिक रूप से उपस्थित प्रजातियों से संकरित उपजातियां भी बनाई गई हैं जो काफी लोकप्रिय हैं, उदाहरणस्वरूप पेपरमिंट, जोकि स्पेअरमिंट तथा वाटरमिंट की एक संकरित प्रजाति है ! पुदीना एक तीव्र सुगंध प्रदान करने वाला पौधा है जिसका उपयोग न केवल विभिन उत्पादित वस्तुओं जैसे टूथ पेस्ट,चुइंगम, ब्रेथ फ्रेशनर, कैंडी और इन्हेलर आदि में किया जाता है, बल्कि आयुर्वेद में भी पुदीने का उपयोग विभिन्न रोगो के शमन में किया जाता है !

sptlt113_2

आईये जानते हैं पुदीने से बनने वाली कुछ औषधियों के बारें में जाने:-

1.) पेट दर्द- पुदीने की पत्तियां, भुना हुआ जीरा, लहसुन, सौंठ, काली मिर्च, कला नमक और धनिया इन सबको समान मात्रा में लेकर चूर्ण तैयार करे तथा गुनगुने पानी के साथ सेवन करें ! पेट दर्द में आराम मिलेगा. इसके अतिरिक्त पुदीने की चाय भी पेट दर्द में लाभकारी होती है!

2.) पाचन तंत्र – पुदीने में उपस्थित एंटीऑक्सीडेंट तथा पोषक तत्व के कारण इसका सेवन जलन तथा अपच में लाभ पहुचता है! यह लार ग्रंथियों को उत्तेजित करता है जो की भोजन पचाने में सहायक हैं!

hwkb17_0101

3.) लू लगना – गर्मियों के दिनों में लू लगना एक आम समस्या है. पुदीने का पना लू से बचने के लिए बड़ा ही कारगर उपाय है! पुदीने का पना बनाने के लिए पुदीने की पतियों में थोड़ा पानी डालकर पीस लें! बाद में एक महीन कपडे से छानकर उसका रस निकाल ले तथ उसमे थोड़ा भुना हुआ जीरा एवं नमक मिला ले !

4.) उच्च तथा निम्न रक्तचाप – पुदीने का रस उच्च रक्त चाप को नियंत्रित करने में सहायता करता है तथा निम्न रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए इस रस में काली मिर्च, नमक तथा थोड़ी शक्कर मिला कर सेवन करें!

5.) सर्दी – खासी-पुदीने में उपस्थित एंटी-इंफ्लामेटरी और एंटी- बैक्टीरियल तत्वों के कारण यह श्वाश नली में ठंडक प्रदान करता है! सर्दी खासी से बचने के लिए गर्म पानी में पुदीने क एरस की कुछ बूंदे डेल और उंसकी भाप को मुह से लेते हुए नाक से छोड़ें! श्वास दुर्गन्ध दाँतों और जीभ की अच्छी तरह सफाई करके पुदीने की कुछ पत्तियां मुह में चबाने से मुह से आने वाली दुर्गन्ध से छुटकारा पाया जा सकता है !

Pudina-Mint-Chutney1

6.) चहरे के धब्बों के लिए- पुदीने की ६ पत्तियां लेक उसे एक अंडे की सफेदी में झाग आने तक मिलाये! उसके बाद इसमें आधा चम्मच पिसा हुआ खीरा मिलाये! अब इस लेप को १५ मिनट तक चहरे पर लगाये बाद में ताजे पानी से चेहरा धो लें.
वजन घटने में सहायक- पुदीना शरीर में जमा अतिरिक्त वसा को कम करता है अतः खाने में इसका सेवन कर अतिरिक्त वजन से छुटकारा पाया जा सकता है!

7.) फुंसियों के लिए- पुदीने में एंटी बैक्टीरियल एवं एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते है जिसके कारण पुदीने की पत्तियों का लेप बनाकर फुंसियों पर लगाने से वो जल्दी ठीक हो जाती हैं तथा उनमें होने वाली जलन में भी रहत मिलती है!

pudina

8.) उलटी आना – पुदीने के सेवन से उल्टी अथवा जी मिचलाने में रहत मिलती है !

सावधानियां – पुदीने का सेवन अत्यधिक मात्र में न करें क्योंकि अन्यथा यह त्वचा में जलन एवं सांस सम्बंधित परेशानी कर सकता है!

123452

SHARE

हिन्दू धर्म, ज्योतिष एवं स्वास्थ्य की लगातार अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें और ट्विटर पेज फॉलो करें!! और बने रहिये ॐनमःशिवाय.कॉम के साथ!!

Loading...
SHARE