जानिये महापुण्यकारी पर्व गंगा दशहरा का महत्व और पूजन विधि !!!!

कल (14 जून, मंगलवार) गंगा दशहरा है (पंचांग भेद के कारण कुछ स्थानों पर 15 जून, बुधवार को गंगा दशहरा मनाया जाएगा)।गंगा दशहरा हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। ज्येष्ठ शुक्ला दशमी को दशहरा कहते हैं। इसमें स्नान, दान, रूपात्मक व्रत होता है। स्कन्दपुराण में लिखा हुआ है कि, ज्येष्ठ शुक्ला दशमी संवत्सरमुखी मानी गई है इसमें स्नान और दान तो विशेष करके करें। किसी भी नदी पर जाकर अर्घ्य (पू‍जादिक) एवं तिलोदक (तीर्थ प्राप्ति निमित्तक तर्पण) अवश्य करें।ऐसा करने वाला महापातकों के बराबर के दस पापों से छूट जाता है।इस दिन अनेक स्थानों व प्रमुख तीर्थों पर धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं तथा गंगा के महत्व का वर्णन किया जाता है। धर्म ग्रंथों के अनुसार, जो व्यक्ति इस दिन विधि-विधान पूर्वक गंगा स्नान व पूजा करता है, उसकी हर मनोकामना तो पूरी होती ही है साथ ही उसे मोक्ष भी प्राप्त होता है। गंगा दशहरा पर इस विधि से गंगा माता की पूजा करनी चाहिए

l_ganga-1463032053

पिछला पेज 1 of 3

SHARE

हिन्दू धर्म, ज्योतिष एवं स्वास्थ्य की लगातार अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें और ट्विटर पेज फॉलो करें!! और बने रहिये ॐनमःशिवाय.कॉम के साथ!!

Loading...
SHARE