जानिए क्यों मनाते हैं गणेश चतुर्थी? मुहूर्त और इस दिन भगवान् गणेश को प्रसन्न करने के उपाय!!

प्रथम पूजनीय है भगवान श्री गणेश…. 

भगवान गणेश विघ्नहर्ता हैं, वे प्रथम पूजनीय है, उनका नाम लिए बगैर किसी भी नए कार्य की शुरुआत सफल नहीं होती और ना ही उनकी इच्छा के विरुद्ध जाकर कोई कार्य पूर्ण हो सकता है। गणेश जी को विघ्नहर्ता भी कहा जाता है और उन्हें विघ्नकर्ता भी माना जाता है।

चारों ओर खुशियों का माहौल और उल्लास का वातावरण है। हर बार की तरह इस बार भी सभी भगवान गणेश को अपने घर में स्थापित करने के लिए उत्सुक हैं। हम आशा करते हैं कि हर बार की तरह इस बार भी गणेश जी आकर आपके दुख हरकर चले जाएं। गणेश जी सौभाग्य और लाभ के देवता है, ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि इस बार गणेश जी के विशेष मंत्रों के साथ अगर आप उनकी पूजा करेंगे तो वे निश्चित रूप से आपकी मनोकामना पूरी करेंगे।

अगले पेज पर जानिए मुहूर्त और गणेश को प्रसन्न करने वाले मन्त्र… 

आगे पढ़ने के लिए अगला पेज पर क्लिक करें

SHARE

हिन्दू धर्म, ज्योतिष एवं स्वास्थ्य की लगातार अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें और ट्विटर पेज फॉलो करें!! और बने रहिये ॐनमःशिवाय.कॉम के साथ!!

Loading...
SHARE