ये 5 लक्षण जो बताते हैं कई बार जन्म ले चुकी है आपकी आत्मा!! जरूर पढ़ें

क्या आप जानते हैं कई बार जन्म ले चुकी है आपकी आत्मा? अगर नहीं तो जानिए ये 5 लक्षण ..

असामान्य आदतें:- कई बार आपके साथ ऐसी घटनाएं या आदतें जुड़ी होती हैं जिनका आपकी सामान्य जीवनशैली से कोई ताल्लुक नहीं होता। आप और आपके साथ के लोग भी इन बातों पर हैरानी जताते हैं कि आखिर ऐसा क्यों है। शायद आपको यकीन ना हो, लेकिन यह आपके पूर्व जीवन से जुड़ा हो सकता है।

आत्माएं और पुनर्जन्म

जी हां, आत्माओं और पुनर्जन्म की बातें आज भी रहस्य हैं। एक बार के लिए अगर यकीन कर लिया जाए कि पुनर्जन्म होता है, तो आप जरूर जानना चाहेंगे कि आपकी आत्मा ने पहली बार जन्म लिया है मनुष्य रूप में इससे पहले आप कई जन्म ले चुके हैं। आगे बताए ये 5 लक्षण अगर आपमें भी हैं तो समझें इससे पहले कई बार जन्म ले चुकी है आपकी आत्मा या कहें कि यह जीवन आपका पुनर्जन्म है।

1. अनजाना भय…

अगर आपको किसी बात से बहुत डर ज्यादा डर हो लेकिन आश्चर्यजनक रूप से इसका आपके वर्तमान जीवन से कोई नाता ना हो। जैसे आप ऊंचाई, पानी, आग डरते हों लेकिन आपके अब तक के जीवन में ऐसी कोई घटना हुई नही हो कि आप उससे इतना डरें।

2. एक ही सपना बार-बार आना…

अगर अक्सर आपको एक ही सपना बार-बार आता हो, तो इसका नाता आपके पूर्व जन्म से हो सकता है। ऐसे सपनों में दिखने वाले लोग आपको पहचाने हुए से लगते हैं, आपको याद नहीं आता कि आपने उन्हें कहां देखा है, लेकिन आपको लगता है कि आपने उन्हें जरूर कहीं देखा है।

इसका अर्थ है ये आपके पूर्वजन्म से जुड़े हुए लोग हो सकते हैं। हो सकता है उस जन्म में वे आपके सहयोगी रहे हों, आपके पड़ोसी या कोई ऐसा दोस्त जिससे आपके बहुत करीबी संबंध रहे हों। इसी कारण आपको ये सपने बार-बार आते हैं।

3. पहली मुलाकात में किसी से अपनापन होना…

हो सकता है आप किसी से पहली बार मिल रहे हों, लेकिन मिलते ही आपको ऐसा लगता है जैसे आप उसे बहुत पहले से जानते हैं। एक अजीब सा अपनापन आपको उसके लिए महसूस होता है। आपको नहीं समझ आता कि आखिर ऐसा क्यों है, क्यों किसी अजनबी के लिए आपको इतना क्लोजनेस महसूस हो रहा है।

वास्तव में ऐसा इसलिए है क्योंकि आप पिछले कई जन्मों से उस व्यक्ति के साथ अच्छे संबंधों में रहे हैं। हो सकता है पिछले जन्मों में वे आपके बेस्ट फ्रेंड रहे हों या सोलमेट।

4. किसी चीज के प्रति खास दीवानगी….

अगर आपकी किसी चीज के लिए खास भावनात्मक जुड़ाव रखते हैं जैसे अनाथ बच्चों, बूढ़ों, अपाहिजों या भिखारियों के प्रति खास दया का भाव। आप ना चाहते हुए भी उनको देखते ही दिल में बेहद दया और सहानुभूति महसूस करते हैं और आप उनके लिए कुछ करना चाहते हैं या करते भी हैं।

इसका अर्थ है कि आप पूर्वजन्म में ऐसी किसी परिस्थिति से जुड़े रहे होंगे। संभव है पूर्व के कई जन्मों में आप इन परिस्थितियों से जूझते रहे हों, इसीलिए इनके लिए आपके लिए यह विशेष दया-भाव है। इसका साफ मतलब यही निकलता है कि आप इससे पहले कई जन्म ले चुके हैं।

5. पूर्वाभास..

कई लोग आपको ऐसे मिलेंगे जो कहते हैं कि कुछ बुरा होने से पहले उन्हें बुरा होने का एहसास होने लगता है और इसलिए वो अनहोनी होने के डर से डरते रहते हैं। आप इसे अपने मन का वहम या बेकार का डर भी नहीं कह पाते, क्योंकि आपका यह डर अक्सर या हमेशा ही सही साबित होता है।

आपने सुना होगा कि उम्र के साथ परिपक्वता आती है। यहां भी यही थ्योरी काम करती है। आपके शरीर में एक प्रौढ़ आत्मा है जो इससे पहले कई जन्म ले चुकी है। इसलिए अपने अनुभवों के आधार पर वह वर्तमान में होने वाले घटनाक्रमों के साथ ही भविष्य में होने वाली घटनाओं को भी भांप लेती है।

हालांकि आपके पूर्व जन्मों से जुड़े इन एहसासों का आपके इस जीवन से कोई नाता नहीं है, ना ही कोई फायदा या नुकसान। हां, इतना जरूर है कि यह इसके संकेत देता है कि पूर्व में जिस प्रकार आपकी आत्मा बार-बार जन्म लेती रही है, उसी प्रकार आप आगे भी जन्म लेते रहेंगे। अगर आपके साथ भी ऐसा कोई अनुभव हुआ है, या आपके किसी जानने वाले के साथ ऐसा हुआ हो तो हमें जरूर बताये और contact@omnamahashivaya.com पर मेल करें.

SHARE

हिन्दू धर्म, ज्योतिष एवं स्वास्थ्य की लगातार अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें और ट्विटर पेज फॉलो करें!! और बने रहिये Omnamahashivaya.com के साथ!

Loading...
SHARE